जगत पदार्थ है, तो स्त्री वस्तु मात्र

प्रश्न: सर, औरतों को शादी के उपरान्त अपने पति का उपनाम क्यों लगाना पड़ता है? वक्ता: मेघना, अगर देख पाओगी तो बात साफ़-साफ़ खुल जाएगी। तुमने देखा

प्रेम क्या है और क्या नहीं?

प्रश्न: प्रेम क्या है? वक्ता: एक संगीतज्ञ था। उसके पास दो लोग सीखने के लिये आए। दोनों से उसने पूछा, “कितना सीखा है? अतीत में संगीत कितना है? कितना सीख कर आये हो?”

1 14 15 16