बहुत बड़ी गलती है गलती के बारे में सोचना।

सीख लेनी है तो अभी से लो। इस समय तुम मुक्त हो क्या कि तुम्हें कल की कहानी याद करनी है? कल से सीख लेने का आश्य क्या है?

और ये बात महत्वपूर्ण है क्योंकि सिखाया हमें यही जाता है कि पिछली गलतियों से सीखो। मैं कह रहा हूँ ठीक अभी जो गलती कर रहे हो, उसका सुधार कौन करेगा? अभी क्या तुम भूल मुक्त हो? ठीक अभी तुम गलती कर रहे हो और अगले क्षण एक नयी गलती होने जा रही है। तुम्हें ध्यान किस पर देना है? ठीक अभी तुम्हारे सामने गलती बैठी हुई है। तुम्हारे पास अवकाश कहाँ है कि तुम पुरानी गलतियों के बारे में सोचो? और जितना पुरानी गलतियों के बारे में सोचोगे, उतनी संभावना बढ़ेगी और गलतियाँ करने की।

बहुत बड़ी गलती है गलती के बारे में सोचना। जिसने गलती के बारे में सोचा, वो गलती पे गलती दोहराएगा।



लेख पढ़ें: धोखा कैसे खा जाते हैं हम ?