एकमात्र ग़लती

कुछ भी महत्वपूर्ण नहीं होता। महत्वपूर्ण बस ये होता है कि जो कर रहे हो, वो तुम्हारा चैन न छीन ले।

कोई भी काम महत्वपूर्ण या गैर महत्वपूर्ण नहीं होता।

हमने कहा था न कि कुछ भी सही और गलत मानो ही मत, चाहे पूरी दुनिया में आग लग जाए, उसको गलत मत मानना।

गलत बस एक बात; क्या?
अशांति।



पूरा लेख पढ़ें: जो तुम्हें अशांत करे, सो गलत